बजट 2018: जेटली की पोटली से किसानों के लिए निकला बड़ा तोहफा
Friday, Feb 2 2018 4:19PM    .

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने देश के किसानों के, लिए बड़े तोहफे का ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि सरकार ने आगामी खरीद की फसलों को, उत्पादन लागत से कम-से-कम डेढ़ गुना कीमत पर लेने का फैसला ले लिया है. देश के किसानों की आमदनी बढ़ाकर साल 2022 तक दोगुना करने का, लक्ष्य प्राप्त करने के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मौजूदा सरकार के, आखिरी पूर्ण बजट में सरकार का संकल्प दोहराया और कहा कि किसानों को लागत से डेढ़ गुना कीमत मिले, इसे सुनिश्चित करने के लिए बाजार मूल्य और एमएसपी में अंतर की रकम सरकार वहन करेगी.
जेटली ने कहा, 'बाजार के दाम अगर न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) से कम हो तो सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि किसानों को बाकी पैसे किसानों को दिए जाएं.' जेटली ने कहा कि इसके लिए नीति आयोग व्यवस्था का निर्माण करेगा। इसके साथ ही, मोदी सरकार ने किसानों के कल्याण के लिए 11 लाख करोड़ का फंड बनाने का भी ऐलान किया. 
खेती-किसानी पर जेटली की महत्वपूर्ण बातें:
-86 प्रतिशत से ज्यादा किसान छोटे या सीमांत किसान हैं. इनके लिए मार्केट तक पहुंचना आसान नहीं है. इसलिए सरकार इन्हें ध्यान -रखकर इन्फ्रास्ट्रक्चर का निर्माण करेगी.
-हम वर्षों से कहते आ रहे हैं कि भारत एक कृषि प्रधान देश है. ऐसे में हमें हमारे जिलों में क्लस्टर बेस्ड डिवेलपमेंट मॉडल तैयार करने की आवश्यकता है.
-देश के किसानों के अथक परिश्रम का परिणाम है.
-लगभग 300 मिलियन टन फलों और सब्जियों का रेकॉर्ड उत्पादन हुआ है.
-ई-नैम को भी हमने किसानों को तहत जोड़ा है। ताकि किसानों को जहां ज्यादा मूल्य मिलती है.
-585 epmc को ई-नैम के जरिए जोड़ा जाएगा। यह काम मार्च 2019 तक ही खत्म हो जाएगा.
-जितने गांव हैं उनको कृषि के बाजारों के साथ बढ़िया सड़क मार्गों से जोड़ने की योजना है.
-हमारे जिले में क्लस्टर मॉडल पर विकसित करने की आवश्यकता है.

  • 0   
  • 0
आपकी प्रतिक्रिया
 
 
   

 
Reporter/Auther: News,   City: .,   Country: India,
News Category: Agriculture,   Business Category: NA   Similar News ID: 1000000018


<